Home > Uncategorized > क्या है, क्यो है, किस लिये प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ?

क्या है, क्यो है, किस लिये प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ?

भारत किसानों का देश है जहां ग्रामीण आबादी का अधिकतम अनुपात कृषि पर आश्रित है। माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी नें 13 जनवरी 2016 को एक नई योजना प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) का अनावरण किया।

यह योजना उन किसानों पर प्रीमियम का बोझ कम करने में मदद करेगी जो अपनी खेती के लिए ऋण लेते हैं और खराब मौसम से उनकी रक्षा भी करेगी।

बीमा दावे के निपटान की प्रक्रिया को तेज और आसान बनाने का निर्णय लिया गया है ताकि किसान फसल बीमा योजना के संबंध में किसी परेशानी का सामना न करें। यह योजना भारत के हर राज्य में संबंधित राज्य सरकारों के साथ मिलकर लागू की जायेगी। एसोसिएशन में के निपटान की प्रक्रिया बनाने का फैसला किया गया है। इस योजना का प्रशासन कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा किया जाएगा।

👉ऑफ लाइन आवेदन (नजदीकी बैंक में सम्पर्क करें)

आपके नजदीक जो भी बैंक है उस बैंक में जाकर आप प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (pradhan mantra fasal bima yojana) का फॉर्म लेकर वहीं पर जमा कर दीजिए।

फॉर्म भरने के लिए क्या चाहिये

  • आवेदक का एक फोटो
  • किसान का आईडी कार्ड (पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड, पासपोर्ट, आधार कार्ड
  • किसान का एड्रेस प्रूफ (ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड, पासपोर्ट, आधार कार्ड)
  • अगर खेत आपका खुद का है तो खेत का खसरा नंबर / खाता नंबर का पेपर जरूर साथ लें।
  • खेत पर फसल बोई है, इसका प्रूफ। प्रूफ के तौर पर किसान पटवारी, सरपंच, प्रधान जैसे जिम्मेदार पदों पर बैठे लोगों से एक पत्र लिखवाकर जमा कर सकते हैं। हर राज्य में ये व्यवस्था अलग अलग है। नजदीकी बैंक जाकर इस बारे में ज्यादा जानकारी ले सकते हैं।
  • अगर खेत बटाई या किराए पर लेकर फसल बोई गई है, तो खेत के असली मालिक के साथ करार की कॉपी की फोटोकॉपी साथ जरूर लें। इसमें खेत का खरसा नंबर / खाता नंबर जरूर साफ तौर पर लिखा होना चाहिए।
  • अगर आप चाहते हैं कि फसल को नुकसान होने की स्थिति में पैसा सीधे आपके बैंक खाते में जाए, तो एक कैंसिल्ड चैक (Cancelled Cheque) भी लगाना जरूरी होगा।

ध्यान रखने योग्य तथ्य 👇

  • फसल बोने के अधिकतम 10 दिनों के अंदर ही आपको प्रधानमंत्री बीमा फसल योजना (pradhan mantra fasal bima yojana) का फॉर्म भरना जरूरी हैं।
  • फसल कटाई से लेकर अगले 14 दिनों तक अगर आपकी फसल को प्राकृतिक आपदा के कारण नुकसान होता है, तो भी आप इस बीमा योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • इस योजना में आपको फसल खराब होने पर तभी बीमा की रकम मिल सकेगी जब आपकी फसल किसी भी प्राकृतिक आपदा के ही कारण खराब हुई हो। जैसे औला, जलभराव, बाढ़, तूफान, तूफानी बरसात, जमीन धंसना इत्यादि।
  • कपास की फसल का बीमा करवाने के लिए किसानों को प्रति एकड़ 62 रुपये प्रीमियम के रूप में जमा करवानी होगी। जबकि 505.86 रुपये के हिसाब से धान की फसल के लिए, रूपए 222.58 रुपये के हिसाब से बाजरा के लिए तथा मक्का की फसल के लिए 202.34 रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से प्रीमियम जमा करवाना होगा।

    प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए Online Apply

    👉प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना के लिए Online Apply करने के लिए पहेले आप को http://www.agri-insurance.gov.in/ इस वेबसाइट पर जाना होगा और वहा पे Farmer Login करना होगा|

    👉अब आपने अपने न्यू फार्मर रजिस्ट्रेशन के समय पर आधार नंबर दिया होगा उससे कुछ डिटेलप्रधानमंत्री फसल बीमा योजना online form में प्राप्त हो जाएगी |
    👉कुछ डिटेल खुद किसान को भरनी होगी जैसे की पिता का नाम, किसान का प्रकार, किसान की केटेगरी, नेचर ऑफ़ फार्मर ड्राप डाउन मेनू से सिलेक्ट करे|

    👉और जो डिटेल भरी हुई है उसे एक बार चेक करले अगर वह सारी डिटेल में कुछ डिटेल गलत है तो उसे आधार कार्ड अपडेट करवानी होगी| बेहद जरुरी डिटेल fill करे

    👉अब सारी डिटेल सही तरीके से भर जाने के बाद Save & Continue बटन पर क्लिक करे|

    👉अब आपको स्क्रीन पर मेसेज मिलेगा “Saved Successfully” और फिर “ok” पर क्लिक करने के बाद आगे का फसल बीमा योजना form फिल कीजिये|

    👉अब आगे का फॉर्म में डिटेल भरे जैसे की वर्ष, सीजन, स्कीम, स्टेट, डिस्ट्रिक्ट, सब डिस्ट्रिक्ट, पंचायत, पाक और जमीं संभंधित डिटेल भरे|

    👉इस डिटेल को ऐड करने के लिए Add पर क्लिक करे|

    👉अब अपना जमीं का माप हेक्टर में fill करे| और तिन दस्तावेज की Scanned कॉपी अपलोड करे|

    1. जमीन का रिकॉर्ड,

    2. बैंक पासबुक फर्स्ट पेज
    3. Sowing सर्टिफिकेट